Latest News Post


केंद्र eNAM पर कृषि सेवाओं के साथ व्यापार प्रणाली को एकीकृत करता है।

केंद्र eNAM पर कृषि सेवाओं के साथ व्यापार प्रणाली को एकीकृत करता है।

सरकार ने राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक मार्केटिंग प्लेटफॉर्म eNAM को ट्रांसपोर्ट, डिलीवरी, सॉर्टिंग, ग्रेडिंग और मूल्य श्रृंखला के अन्य पहलुओं जैसे कटाई के बाद की कृषि प्रणालियों के साथ व्यापार प्रणालियों को एकीकृत करके "प्लेटफार्मों के प्लेटफॉर्म" के रूप में विकसित किया है।

कृषि मंत्रालय के संयुक्त सचिव, पीके स्वैन ने कहा, '' कमोडिटी ट्रेडिंग के लिए सिर्फ एक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराने से, हम इसे एक बड़े डिजिटल इकोसिस्टम के रूप में विकसित कर रहे हैं, जिससे किसान अपनी उपज का मूल्य जोड़ सकेंगे और कृषि विपणन में आसानी कर सकेंगे।  किसानों को कृषि से संबंधित विशिष्ट सेवाएं जैसे कि गुणवत्ता की जाँच, छँटाई, ग्रेडिंग पैकेजिंग सेवाएँ, बीमा, व्यापार वित्त और भण्डारण मिलेगा।"

“eNAM का लक्ष्य अंतिम-मील किसान को लाभ पहुंचाना और उनकी कृषि उपज बेचने के तरीके को बदलना है। इस हस्तक्षेप से हमारे किसानों को अतिरिक्त लागत के बिना पारदर्शी तरीके से प्रतिस्पर्धी और पारिश्रमिक कीमतों का एहसास करने में सक्षम होने से उनकी आय बढ़ाने में काफी लाभ होता है।

2021-22 के बजट में, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने eNAM के साथ एकीकृत भौतिक मंडियों की संख्या को दोगुना करने की घोषणा की। वर्तमान में 18 राज्यों और तीन केंद्र शासित प्रदेशों में 1,000 मंडियां eNAM के साथ एकीकृत हैं। अब हमारे पास 1,000 और मंडियों को जोड़ने के लिए एक जनादेश है जो कि व्यापार की मात्रा को 1.22 लाख करोड़ रुपये को छू जाएगा। अब तक 1.69 करोड़ से ज्यादा किसान और 1.55 लाख व्यापारी eNAM प्लेटफॉर्म पर पंजीकृत हो चुके हैं।

eNAM  "एक राष्ट्र, एक बाजार" की अवधारणा की दिशा में एक कदम है जो किसानों की पहुंच को कई बाजारों और खरीदारों तक डिजिटल रूप से बढ़ाएगा।इसने मूल्य खोज तंत्र, गुणवत्ता वाले कम कीमत मूल्य प्राप्ति में सुधार लाने के इरादे से व्यापार लेनदेन में पारदर्शिता लाई है।